होम न टीके का भेद होगा न टोपी का : योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश

न टीके का भेद होगा न टोपी का : योगी आदित्यनाथ

न टीके का भेद होगा न टोपी का : योगी आदित्यनाथ

न टीके का भेद होगा न टोपी का : योगी आदित्यनाथ

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर से कहा है कि उनकी सरकार में किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं होगा। उन्होंने यूपी आवाम को संबोधित करते हुए ये बातें कही हैं कि " न टीका का भेद होगा और न टोपी का भेद होगा। "

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उनकी सरकार प्रदेश के विकास में शामिल सभी लोगों को हरसंभव सुरक्षा प्रदान करने की कोशिश कर रही है फिर चाहे वो किसी भी वर्ग के हों।उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ टीवी चैनल आजतक के पंचायत उत्तर प्रदेश कार्यक्रम में अपनी बातें रख रहे थे तब उन्होंने ये बातें कही। जब उनसे प्रदेश में हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं पर लग रहे गंभीर आरोप को लेकर सवाल किया गया तो योगी आदित्यनाथ ने ऐसे लोगों को सख्त चेतावनी देते हुए कहा कि छद्म गमछा ओढ़ने वाले जो कार्य करते हैं सुधर जाएं छोड़े नहीं जाएंगे।

योगी आदित्यनाथ ने आगे ये भी कहा कि जो भी भारतीय जनता पार्टी या फिर सांस्कृति संगठन को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं उनकी पहचान की जा रही है। आपको बता दें कि हिंदू युवा वाहिनी संस्था योगी आदित्यनाथ ने ही बनाई थी। अब इस संगठन से जुड़े कुछ कार्यकर्ताओं पर हिंसा के मामले शामिल होने के आरोप लग रहे हैं साथ में ये भी कहा कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था हमारी प्राथमिकता है। कुछ घटनाएं प्रदेश के कुछ इलाकों में हुई हैं लेकिन मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि तय समय पर 100 दिन पूरे होने के बाद मैं अपनी सरकार का रिपोर्ट कार्ड सबके सामने पेश करूंगा जिसमें इस तरह के मामले पूरी तरह से रुक जाएंगे।योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में हर बहन बेटी और व्यापारी सुरक्षित महसूस करें इसकी पूरी कोशिश की जा रही है। उन्होंने आगे ये भी जोड़ा कि वीआईपी संस्कृति प्रदेश में पूरी तरह से खत्म हो जाएगी।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में हम ट्रांसफर पॉलिसी लेकर आए हैं। पिछले 12-15 साल में ट्रांसफर पोस्टिंग इंडस्ट्री चल रही है। अब सभी को कारण बताया जाएगा कि आखिरी उनके ट्रांसफर की वजह क्या है। किसानों के बारे में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार की कोशिश यही है कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी की जाए।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top