होम लहसुन की आड़ मे गन्दा खेल

दिल्ली

लहसुन की आड़ मे गन्दा खेल

लहसुन की आड़ मे गन्दा खेल

लहसुन की आड़ मे गन्दा खेल

Photo

भारत  अरब देश, मलेशिया, बांग्लादेश, पाकिस्तान सहित अन्य देशो से   लहसुन का आयात   करता है लेकिन बाघा बॉर्डर पर लहसुन को दबा कर दूसरे  रास्ते  से चीन का प्रतिबंधित लहसुन भारत मे फैलाकर करोडो रुपए का जंहा वारा न्यारा हो रहा है वही लोगो की सेहत की भी चिंता नहीं की जा रही है ,मामले मे सरकार भी कुछ संज्ञान नहीं ले रही है सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पाकिस्तान से आने वाला लहसुन को भारत की सीमा पर जाच के नाम पर रोक  लिया जाता है पर जाँच करने मे काफी समय जान बुझ कर लगाया जाता है जिससे की लहसुन ख़राब हो जाए बाद मे इसको ख़राब बता कर वापस कर दिया जाता है सूत्र इस बात को  पाकिस्तान से भारत आने वाले पत्तरो के आयात निर्यात से भी जोड़ते है हमारे दिल्ली संवाददाता सुरेश दुवा बताते है की पाकिस्तानी लहसुन भारत ना आने के कारन भारत मे चीन का लहसुन बड़ी मात्रा   मे आ रहा है जिससे की लोगो की सेहत पर बुरा असर पड़ रहा है  भारत में गुपचुप तरीके से प्रतिबंधित चीनी (चाईना) लहसुन की हो रही अवैध रूप से तस्करी लोगो को बीमार बना रही है  वर्ष 2005 में भारत सरकार के कृषि मंत्रालय ने चीन से आयात हुए लहसुन का निरीक्षण करने के बाद इसके आयात पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा दिया था। जोकि अभी भी प्रतिबंधित है। यही नहीं,बल्कि भारत के अलावा अमेरीका में चाइना लहसुन के आयात पर प्रतिबंध है। बावजूद इसके पिछले करीब आठ वर्षों से चीन, नेपाल, सिलिगुरी, पाकिस्तान व पीओके कश्मीर के रास्ते गुपचुप तरीके से चाइना का लहसुन की अवैध तस्करी भारत में की जा रही है। इससे देश के व्यापारियों व किसान वर्ग को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है।  गत वर्ष उक्त विषय को लोकसभा में भी प्रश्रकाल के दौरान उठाया गया था और भारत सरकार  ने आश्वासन दिया था कि भारत सरकार लहसुन को चीन द्वारा तस्करी पर पूरी तरह से रोक लगाएगी।एक सप्ताह पूर्व चीन ने बांग्लादेश व कोलकता के रास्ते लहसुन चैन्नई पहुंचाया है। इससे देश के लहसुन व्यापारियों व किसानों को फिर आर्थिक रूप से नुकसान उठाना पड़ा है।  भारत में अवैध तरीके से हो रही चीन के लहसुन की तस्करीजोरो पर है  प्रतिबंधित चीन लहसुन को  गुपचुप तरीके से भारत में तस्करी कर रहे हैं।

 

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top