होम अभिनेत्री कंगना रनौत का बड़ा बयान, इंडिया को बताया गुलामी की पहचान,बताया क्या होना चाहिए देश का नाम ?

मनोरंजनबॉलीवुडसेलेब्रिटीज़

अभिनेत्री कंगना रनौत का बड़ा बयान, इंडिया को बताया गुलामी की पहचान,बताया क्या होना चाहिए देश का नाम ?

अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने इंडिया नाम को गुलामी की पहचान बता डाला और उन्होंने देश के नाम को बदलने की इच्छा व्यक्त की है सोशल मीडिया पर इनका यह पोस्ट काफी वायरल हो रहा है

अभिनेत्री कंगना रनौत का बड़ा बयान, इंडिया को बताया गुलामी की पहचान,बताया क्या होना चाहिए देश का नाम ?

अभिनेत्री कंगना रनौत का बड़ा बयान, 'इंडिया' को बताया गुलामी की पहचान, बताया क्या होना चाहिए देश का नाम- 

अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने 'इंडिया' नाम को गुलामी की पहचान बता डाला और उन्होंने देश के नाम को बदलने की इच्छा व्यक्त की है सोशल मीडिया पर इनका यह पोस्ट काफी वायरल हो रहा है।

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत अपनी एक्टिंग से ज्यादा इन दिनों अपने बयानों की वजह से चर्चा में रहती हैं। आपको बता दें कि ट्विटर ने कंगना रनौत की छुट्टी कर दी थी, लेकिन अब दूसरे सोशल मीडिया (Social Media) प्लेटफॉर्म पर वह काफी एक्टिव हैं और विभिन्न मुद्दों पर पर अपनी राय पोस्ट किया करती हैं। हाल ही में उन्होंने 'इंडिया' नाम को गुलामी की पहचान बताते हुए बड़ा बयान दे डाला। इतना ही नहीं उन्होंने देश के नाम को बदलने की इच्छा भी व्यक्त की है।

आपको बता दें कि ट्विटर से छुट्टी के बाद कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने हाल ही में देसी कू प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करना शुरू किया है। कू ऐप पर 'इंडिया' और 'भारत' पर दिए बड़े बयान के बाद उन्होंने इसको अपने इंस्टा स्टोरी पर पोस्ट किया है। 

उन्होंने कहा कि भारत तभी उठ सकता है, जब उसकी जड़ें प्राचीन आध्यात्मिकता और ज्ञान में हों, जो हमारी महान सभ्यता की आत्मा है। विश्व हमारी ओर देखेगा और हम एक विश्व नेता के रूप में उभरेंगे। यदि हम शहरी विकास में उच्च स्तर पर जाते हैं, लेकिन पश्चिमी दुनिया की सस्ती नकल नहीं हैं और वेदों, गीता और योग में गहराई से निहित हैं, तो क्या हम इस दास नाम 'इंडिया' को 'भारत' में तब्दील कर सकते हैं।

आइये जानते हैं क्या लिखा अपनी पोस्ट में कंगना ने-

अपनी पोस्ट में उन्होंने भारत- इंडिया के बीच का अंतर बताया है। अपनी पोस्ट में उन्होंने लिखा- 'ये एक संस्कृत शब्द है। भ से भाव, र से राग और त से ताल का अर्थ निकलता है। भारत तभी आगे बढ़ सकता है, जब वो अपनी प्राचीन सभ्यता और संस्कृति में विश्वास कर उसी के रास्ते पर आगे बढ़ेगा। कंगना ने सभी से वेदों, गीता और योग की तरफ जुड़ने की अपील की है। 

कंगना ने आगे लिखा- हर नाम में एक कंपन होता है और अंग्रेज यह जानते थे कि उन्होंने न केवल स्थानों को बल्कि लोगों और महत्वपूर्ण स्मारकों को भी नए नाम दिए। हमें अपना खोया हुआ गौरव वापस पाना होगा, आइए 'भारत' नाम से शुरुआत करें।

आपको बता दें कि हाल ही में कंगना रनौत ने प्रोडक्शन में डिजिटल डेब्यू भी किया है। कंगना के वर्कफ्रंट की बात करें तो फिल्म थलाइवी, तेजस और धाकड़ में वह जल्द नजर आने वाली हैं।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Facebook, Twitter, व Google News पर हमें फॉलो करें और लेटेस्ट वीडियोज के लिए हमारे YouTube चैनल को भी सब्सक्राइब करें।

Most Popular

(Last 14 days)

Facebook

To Top