होम पीडीपी का भाजपा आलाकमान को संदेश, सशर्त सरकार गठन

जम्मू कश्मीर

पीडीपी का भाजपा आलाकमान को संदेश, सशर्त सरकार गठन

पीडीपी का भाजपा आलाकमान को संदेश, सशर्त सरकार गठन

पीडीपी का भाजपा आलाकमान को संदेश, सशर्त सरकार गठन

Photo

श्रीनगर !   पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने अपने दोनों हाथों में लड्डू थामने की तैयारी कर ली है। वह एक तीर से कई निशाने साधने की राजनीति पर उतारू है। नतीजतन उसने भाजपा आलाकमान को साफ संदेश दिया है कि केेंद्र सरकार एजेंडा आफ एलायंसÓ अर्थात साझा समझौते की शर्तों को पूरा करे तो ही भाजपा के साथ गठबंधन सरकार का गठन किया जा सकता है।
ऐसा न होने की स्थिति में पीडीपी राज्य में विधानसभा भंग करने की सिफारिश राज्यपाल से कर देगी। वैसे भी नेकां ऐसी सिफारिश करने के लिए पहले से ही तैयार बैठी हुई है। मुख्यमंत्री मुफ्ती मुहम्मद सईद की मौत के बाद पीडीपी की ओर से भाजपा के साथ फिर से सरकार बनाने के लिए ऐसी शर्तें इसलिए रखी जा रही हैं क्योंकि एजेंडा आफ एलायंसÓ को पवित्र समझौता करार देने वाली पीडीपी का कहना है कि भाजपा ने इस समझौते की कई बातों पर अमल करने से साफ  इनकार किया है और सरकार के गठन के उपरांत वह इस पर अमल से आनाकानी करने लगी है। पीडीपी इस सच्चाई से अब वाकिफ हो गई है कि उसने भाजपा के साथ गठबंधन करके अपनी जड़ें खोद डाली हैं। इस गठबंधन के विरुद्ध पीडीपी के भीतर जबरदस्त विरोध दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है। पर पीडीपी नेता एक झटके के साथ इस गठबंधन को तोडऩे के लिए इसलिए राजी नहीं हैं क्योंकि वह जानती है कि ऐसा करने का नुक्सान पीडीपी को ही होगा और भाजपा लाभ में रहेगी। यही कारण था कि पीडीपी-भाजपा के साथ हुए गठबंधन को तोडऩे के लिए पहले जमीन तैयार कर लेना चाहती है। वह चाहती है कि ऐसे मुद्दे उछाल कर इस गठबंधन से छुटकारा पाया जाए जिससे कश्मीर में उसका वोट बैंक बढ़ जाए। भाजपा से गठबंधन के बाद हमारा वोट बैंक खिसका है,Ó एक पीडीपी नेता का मानना था जो भाजपा के साथ गठबंधन को तत्काल तोडऩे का पक्षधर था।
ऐसे में पीडीपी के सामने अब दो ही रास्ते बचे हुए हैं। एक, या तो वह भाजपा आलाकमान अर्थात केंद्र सरकार पर दबाव डाल कर साझा समझौते की शर्तों को लागू करवाने में कामयाबी पाए या फिर गठबंधन को तोड़ दे।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top