होम Science Facts: क्या होगा जो चाँद आ जायें धरती के करीब? जानकर हैरान रह जायेगें आप

समाचारअजब-गजब

Science Facts: क्या होगा जो चाँद आ जायें धरती के करीब? जानकर हैरान रह जायेगें आप

खूबसूरत सा दिखने वाले चांद को हम प्यार से चंदा मामा कहकर पुकारते हैं क्या आपको पता है जब तक ये मामा हमसे दूर हैं तभी तक गनीमत है अगर पास आ गये तो हमारी जिदंगी खतरे मे आ जायेगी।

Science Facts:  क्या होगा जो चाँद आ जायें धरती के करीब?  जानकर हैरान रह जायेगें आप

Science Facts: क्या होगा जो चाँद आ जायें धरती के करीब? जानकर हैरान रह जायेगें आप 

खूबसूरत सा दिखने वाले चांद को हम प्यार से चंदा मामा कहकर पुकारते हैं क्या आपको पता है जब तक ये मामा हमसे दूर हैं तभी तक गनीमत है अगर पास आ गये तो हमारी जिदंगी खतरे मे आ जायेगी। प्यारे दिखने वाले चंदा मामा की अपनी कहानी है, जो धरती पर बड़ा प्रभाव डाल सकती है। 

आइए बताते हैं आपको अगर चंदा मामा आ जायें करीब तो क्या होगा मंजर? 

American Museum of Natural History के मुताबिक धरती और अन्य ग्रहों के टकराने (Asteroids) के बाद ही चांद का निर्माण हुआ था। चांद दरअसल इन ग्रहों के टुकड़ों से बना था. यही वजह है कि चांद का बड़ा प्रभाव (Moon Impact On Earth) हमारी धरती पर पड़ता है। तमाम प्राकृतिक घटनाओं से लेकर हमारे रोज़ाना के मूड पर भी चांद का प्रभाव पड़ता है। चांदनी धरती को ठंडक पहुंचाती है और जानवरों को भी इससे मदद मिलती है। ऐसे में अगर धरती और चांद के बीच की दूरी (Moon Closer to Earth) घट जाती है, तो आखिर क्या होगा?

पास आ जाये चाँद,तो मच जाएगी तबाही- 

चांद (Moon) और धरती (Earth) के बीच दूरी कम होते ही हमारी मुसीबत शुरू हो जाएगी। हालांकि फिलहाल हर साल चांद धरती से करीब 1.5 इंच दूरी पर स्पिन हो जाता है। फोर्ब्स (Forbes) के मुताबिक अगर हम 65 बिलियन साल बाद की बात करें तो चांद दूर जाने के बजाय धरती के पास आना शुरू हो जाएगा। यही वो वक्त होगा, जब तबाही की शुरुआत हो जाएगी. चांद अपनी ओर समंदर की लहरों (Moon and Tides) को आकर्षित करता है। जब चांद पास आएगा तो ये लहरें उसकी ओर बढ़ेंगी और आस-पास के इलाकों में सुनामी जैसे हालात हो जाएंगे। 

क्या होगा जो धरती से टकरा जाये चाँद? 

​​​​​ चांद हमारी धरती से 11,470 मील की दूरी पर है। अगर ये धरती के पास आकर Roche limit तक पहुंच गया तो यहां मौजूद समंदर से 30 हजार फीट ऊंची लहरें उठेंगी, फिर क्या हल होगा आप सोच सकते हैं। इतना ही नहीं चांद के पास आने से धरती का क्रम भी बदलेगा और दिन छोटे हो जाएंगे, तापमान भी गिरेगा और हिमयुग की शुरुआत हो सकती है। Space चांद के Roche limit में आते ही लहरें गुरुत्वाकर्षण से भी तेज़ होंगी, ये चांद के पास पहुंचने लगेंगी और थोड़े वक्त बाद ये विशाल लहरें चांद को टुकड़ों-टुकड़ों में तोड़ देंगी। चांद के धरती पर क्रैश होते ही ये हमारी धरती के चारों ओर से गोल रिंग सी बना लेगा। अब धरती शनि ग्रह की तरह इस रिंग के अंदर दिखाई देगी। INSH के मुताबिक पूरा चांद धरती पर नहीं गिरेगा, लेकिन उसके कुछ हिस्से अलग-अलग शहरों में गिरेंगे और इसे तबाह कर देंगे।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Facebook, Twitter, व Google News पर हमें फॉलो करें और लेटेस्ट वीडियोज के लिए हमारे YouTube चैनल को भी सब्सक्राइब करें।

Most Popular

(Last 14 days)

Facebook

To Top