उत्तर प्रदेशभ्रष्टाचारमुद्दा

जिला मेमोरियल चिकित्सालय बलरामपुर में हो रही कमीशन खोरी

जिला मेमोरियल चिकित्सालय बलरामपुर में हो रही कमीशन खोरी

जिला मेमोरियल चिकित्सालय बलरामपुर में हो रही कमीशन खोरी

Photo

बलरामपुर। जिला मेमोरियल चिकित्सालय बलरामपुर के इमरजेंसी वार्ड में अगर आप पेट दर्द या उल्टी,दस्त के मरीज़ को ले जाते हैं तो ड्यूटी पे मौजूद साहब लोग दो कामन दवा लिखते है एक तो मोनोसेफ और दूसरी है पेंटाप जिनकी कीमत लगभग  250 रुपये हैं।

पेंटाप का पता नही लेकिन जहां तक मोनोसेफ का प्रश्न है तो ये दवा घाव को सुखाने में काम आती है अब बात समझ मे ये नही आती है कि उल्टी दस्त और पेट दर्द में घाव को सुखाने वाली दवा का क्या काम है।

यही घटना जब इकरा अंसारी पुत्री इश्तियाक अंसारी निवासी गोविंद बाग बलरामपुर जिला मेमोरियल हॉस्पिटल में दवा लेने गई तो यह घटना उनके साथ घटित हुई।

उन्होंने जब डॉक्टर साहब से कहा कि सर दवा यहां पर मिल जाएगी तो उन्होंने साफ मना कर दिया कि  इस दवा की सप्लाई यहां पर नहीं है आपको बाहर से लाना पड़ेगा और ये दोनों दवा इन्फेक्शन खत्म करने के लिए बहुत ज़रूरी है आपको लाना पड़ेगा।

जब मरीज़ तयशुदा मेडिकल (वारसी मेडिकल स्टोर)पे जाता है तो ये दोनों दवा और 500 के  खुल्ले पैसे लेकर आता है(सुबह के समय) जैसे उसको पहले से पता हो कि मरीज़ क्या लेने आया है।

इन सब मामले से तो बस यही लगता है कि इमरजेंसी वार्ड और मेडिकल वाले इन दोनों दवाओं के नाम पे मरीज़ों को खूब लूटते है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top