छत्तीसगढ़

कांग्रेसी नेताओं ने हाथ में गंगाजल लेकर खाई कसम, कहा 10 दिन में करेंगे कर्ज माफ

कांग्रेसी नेताओं ने हाथ में गंगाजल लेकर खाई कसम, कहा 10 दिन में करेंगे कर्ज माफ

कांग्रेसी नेताओं ने हाथ में गंगाजल लेकर खाई कसम, कहा 10 दिन में करेंगे कर्ज माफ

Photo

रायपुर। छत्तीसगढ़ में विस चुनाव के प्रचार मे जुटी कांग्रेस पार्टी राज्य के मतदाताओं को लुभाने के लिए भरसक प्रयास कर रही है। गुरुवार को कांग्रेसी नेता आरपीएन सिंह सहित कई नेता रायपुर कार्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में गंगाजल लेकर पहुंचे। दूसरे चरण के मतदान से पहले कांग्रेस नेताओं ने गंगाजल हाथ में लेकर कसम खाई कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के 10 दिन के अंदर सबसे पहले किसानों का कर्ज माफ करेंगे। इस मौके पर राष्ट्रीय प्रवक्ता राधिका खेड़ा और जयवीर शेरगिल भी मौजूद थे। उन्‍होंने पत्रकारों को यह भरोसा भी दिया कि वह जो शीशी लेकर आए हैं, उसमें गंगाजल ही है।

कांग्रेस सरकार बनते ही 10 दिन में किसानों का किया जाएगा कर्ज माफ -

पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह ने कई कांग्रेसी के नेताओं के साथ गंगाजल हाथ में लेकर कसम ली कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार बनते ही 10 दिन में किसानों का कर्ज माफ कर किया जायेगा। आरपीएन सिंह ने कहा कि किसान रीढ़ की हड्डी हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का घोषणापत्र जुमलापत्र नहीं है। परिणाम से सब हैरान हो जाएंगे। कांग्रेस के पक्ष में ऐसी आंधी है, जिसे अभी तक किसी ने देखी नहीं हैं।

बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा PM मोदी अब रैलियों में भ्रष्टाचार की बात नहीं कर रहे हैं -

PM मोदी पर हमला बोलते हुए आरपीएन सिंह ने कहा कि, चुनाव का दौर है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूरे प्रदेश का दौरा कर रहे हैं। 15 लाख रुपये देने की बात, किसानों को बोनस के वादे तो किए गए, लेकिन साढ़े चार सालों में पूरा नहीं किया गया। और PM मोदी अब रैलियों में भ्रष्टाचार की बात नहीं कर रहे हैं।

हाथ में गंगा जल लेकर क़सम खाते हैं, छत्तीसगढ़ में सरकार में आते ही दस दिन में किसानों का क़र्ज़ माफ़ करेंगे : @SinghRPN रायपुर में pic.twitter.com/MldQrUf0i9

— Umashankar Singh (@umashankarsingh) November 15, 2018

ज्ञात हो कि, राहुल गांधी ने अपनी रैलियों में छत्तीसगढ़ के किसानों से वादा किया था कि चुनाव के बाद राज्य में कांग्रेस पार्टी का मुख्यमंत्री बनते ही गिनकर 10 दिनों के अंदर किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। इससे पहले छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ में किसानों के कर्ज माफी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र को पत्र लिखा था। बता दें कि 12 नवंबर को छत्‍तीसगढ़ की नक्सल प्रभावित 18 सीटों पर मतदान हो चुका है। बाकी 72 सीटों के लिए 20 नवंबर को वोट डाले जाएंगे।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top