राष्ट्रीय

भारत के मुसलमान बांग्लादेश या पाकिस्तान जाएं यहां क्या काम है उनका : विनय कटियार

भारत के मुसलमान बांग्लादेश या पाकिस्तान जाएं यहां क्या काम है उनका : विनय कटियार

भारत के मुसलमान बांग्लादेश या पाकिस्तान जाएं यहां क्या काम है उनका : विनय कटियार

Photo

न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत में विनय कटियार ने कहा, जो लोग वंदे मातरम का सम्मान नहीं करते हैं और जो पाकिस्तानी झंडे को फहराते हैं उनपर कार्रवाई करने का बिल लाया जाना चाहिए।' इसके अलावा उन्होंने कहा, 'मुसलमानों को इस देश में रहना ही नहीं चाहिए। उन्होंने जनसंख्या के आधार पर देश का बंटवारा कराया तो इस देश में रहने की क्या आवश्यकता है, उनको अलग भूभाग दे दिया गया है, बांग्लादेश या पाकिस्तान जाएं यहां क्या काम है उनका?

इससे पहले AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने मांग की है कि केंद्र सरकार ऐसा कानून बनाए, जिसमें भारतीय मुस्लिमों को 'पाकिस्‍तानी' कहे जाने को दंडनीय अपराध माना जाए। और तीन साल तक कारावास की सजा देनी चाहिए। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  सरकार संसद में ऐसे बिल नहीं लाएगी।आपको बता दें कि एआईएमआईएम प्रमुख ने ट्रिपल तलाक बिल को "महिला विरोधी" करार दिया था। इससे पहले तीन तलाक पर प्रस्तावित कानून का कड़ा विरोध करते हुए एमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने बीते शनिवार को 'शरीयत' की रक्षा के लिए भारतीय मुसलमानों से एक होने का आह्वान किया था। 

साथ ही विनय कटियार ने ये भी कहा कि यह कोई नहीं कह सकता कि एक बार में तीन दफा तलाक बोलने पर शादी समाप्त हो जाएगी या फिर उसे केवल एक तलाक माना जाएगा। उन्होंने आश्चर्य प्रकट किया कि सरकार कैसे संसद में विधेयक ला सकती है। उन्‍होंने नरेंद्र मोदी सरकार से पूछा कि क्या सरकार उन महिलाओं को आर्थिक सहायता मुहैया कराएगी, जिनके पतियों को तीन साल जेल भेज दिया जाएगा।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top