होम कहा-बोलने कि आजादी सबको है लेकिन मर्यादा में

उत्तर प्रदेश

कहा-बोलने कि आजादी सबको है लेकिन मर्यादा में

कहा-बोलने कि आजादी सबको है लेकिन मर्यादा में

कहा-बोलने कि आजादी सबको है लेकिन मर्यादा में

Photo

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने दिल्ली के जेएनयू विवाद पर कहा कि मामला न्यायालय में विचाराधीन है और संसद के पटल पर है इसका फैसला न्यायालय और संसद ही करेगी। अभिव्यक्ति कि आजादी पर राज्यपाल ने कहा कि बोलने कि आजादी सबको है लेकिन मर्यादा में, सभी को संविधान के दायरे में रहकर अपने दायित्वों का निर्वहन करना चाहिए।

राज्यपाल राम नाईक आज डॉ. राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के 20वे दीक्षांत समारोह के मौके पर फैजाबाद में थे। इस दौरान राज्यपाल ने 89 मेधावियों को गोल्ड मैडल और डिग्री प्रदान किया। कार्यक्रम में राज्यपाल ने इसरो के वैज्ञानिक पदमश्री प्रो. वाई.एस. राजन और काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. जी.सी. त्रिपाठी को मानद उपाधि भी प्रदान की। मुख्य अतिथि के रूप में राष्ट्रीय मूल्याकन परिषद् के निदेशक प्रो. डी.पी. सिंह भी मौजूद रहे। 

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top