होम बिना अन्न खाए इस महिला ने अपनी जिंदगी के 60 साल जिया, जिंदा है सिर्फ. . .

अजब-गजब

बिना अन्न खाए इस महिला ने अपनी जिंदगी के 60 साल जिया, जिंदा है सिर्फ. . .

इंसान को जिंदा रहने के लिए दो वक्त की रोटी बहुत जरुरी है । अपने पेट को पालने के लिए लोग दिन-रात कडी मेहनत करते है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी महिला के बारे में बताने जा रहे है जो पिछले कई दशकों से बिना अन्न खाए जिंदा है।

बिना अन्न खाए इस महिला ने अपनी जिंदगी के 60 साल जिया, जिंदा है सिर्फ. . .

धामनोद : इंसान को जिंदा रहने के लिए दो वक्त की रोटी बहुत जरुरी है । अपने पेट को पालने के लिए लोग दिन-रात कडी मेहनत करते है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी महिला के बारे में बताने जा रहे है जो पिछले कई दशकों से बिना अन्न खाए जिंदा है। यह पढकर भले ही आपको हैरानी होगी लेकिन यह बिल्कुल सच है। जी हां, हम बात कर रहे है 75 साल की सरस्वती बाई की। सरस्वती बाई पिछले 60 सालों से बिना अनाज खाए जिंदा है, जो किसी चमत्कार से कम नहीं है।

मध्य प्रदेश के धामनोद में रहने वाली 75 साल की बुजर्ग सरस्वती बाई की कहानी सुनकह हर कोई हैरान है। क्योंकि उन्होंने पिछले 60 साल से अन्न का एक दाना भी नहीं खाया है। बिना अन्न खाय बस चाय और पानी के दम पर न सिर्फ वो आज तक जिंदा है बल्कि बगैर खाए वो खेत में घंटों अपना पसीना भी बहाती थीं। आपको जानकर हैरानी होगी कि इसी हालत में और बहुत कम उम्र में वो पांच बच्चों की मां भी बनीं, सरस्वती बाई की शादी द्वारका प्रसाद पाटीदार से हो गई थी और वो कम उम्र में ही मां भी बन गईं। पहली डिलीवरी में उन्होंने एक लडक़ी को जन्म दिया और मां बनते ही उनकी तबियत खराब हो गई।

सरस्वती बाई को टाइफाइड हो गया था जिसके चलते उनकी आंते सिकुड़ गई और वो जो भी खाती थीं उन्हें उल्टी हो जाती थी। हालांकि इलाज कराने की वजह से कुछ समय बाद उनकी तबीयत तो ठीक हो गई लेकिन उन्हें अन्न से नफरत सी हो गई। बीमारी से ठीक होने के बाद सरस्वती बाई को कुछ भी खाने का मन नहीं करता था और जब भी वो कुछ खाने की कोशिश करतीं, उन्हें उल्टी हो जाती।

अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद से ही सरस्वती बाई को खाने से एलर्जी हो गई और सरस्वती बाई की इस हालत को देखकर उनके पति काफी परेशान हुए। जिसके बाद इंदौर जाकर उन्होंने कई डॉक्टरों से सरस्वती बाई का इलाज करवाया। लेकिन कोई भी डॉक्टर उनका खाना शुरू नहीं करवा पाया। सरस्वती बाई बिना अन्न खाए सालों से पानी और चाय की खुराक पर ही जिंदा हैं। इसके अलावा हफ्ते में वो एक केला खा लेती हैं। इतना ही नहीं किसी समारोह या शादी-ब्याह में शरीक होने के बाद भी वो अन्न का एक दाना नहीं खातीं।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top