राष्ट्रीय

अखिलेश यादव के साथ हूं, मायावती के नहीं : राजा भैया

अखिलेश यादव के साथ हूं, मायावती के नहीं : राजा भैया

अखिलेश यादव के साथ हूं, मायावती के नहीं : राजा भैया

Photo

लखनऊ.  उत्तर प्रदेश में राज्यसभा की 10 सीटों के लिए मतदान जारी है। वही राजा भैया ने ट्विटर पर लिखा, न मैं बदला हूँ, न मेरी राजनैतिक विचारधारा बदली है, 'मैं अखिलेश जी के साथ हूँ,' का ये अर्थ बिल्कुल नहीं कि मैं बसपा के साथ हूँ। उनके इस बयान के बाद राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि उनका यह बयान बसपा का राजनीतिक गणित बिगाड़ सकता है। अगर वह बसपा को वोट नहीं देंगे तो माना जा रहा है कि वह भाजपा के पक्ष में क्रॉस वोटिंग कर सकते हैं। 2007 में जब मायावती यूपी की मुख्यमंत्री थी तो माया सरकार में जमकर उन पर कहर बरसाया गया। माया सरकार में राजा भैया और उनके पिता उदय प्रताप सिंह पर आतंकवाद निरोधकर कानून पोटा सहित दर्जनो केस लगे और उन्हें कई महीने जेल की हवा खानी पड़ी। इस बायन के पीछे इन्ही पुरानी बातों को माना जा रहा है। वैसे रघुराज के पास सपा की प्रत्याशी जया बच्चन को वोट देने का भी ऑप्शन है।

बसपा विधायक अनिल सिंह ने BJP को दिया वोट

बहुजन समाज पार्टी के विधायक ने कहा है कि उसने क्रॉस वोटिंग की है। विधायक ने कहा कि उसने भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में क्रॉस वोटिंग की है। बसपा विधायक अनिल सिंह ने वोट देने के बाद विधानसभा से बाहर आकर कहा कि उन्होंने 'भाजपा के पक्ष में क्रॉस वोटिंग की है। मैं बाकी के बारे में नहीं जानता।' इससे पहले सिंह ने कहा कि 'अंतरात्मा की आवाज पर वोट डालूंगा, महाराज जी (सीएम आदित्यनाथ) को वोट दूंगा। वहीं सपा के एक विधायक अनिल अग्रवाल ने भी भाजपा के पक्ष में वोटिंग की है।
 

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

Facebook

To Top