होम अगर आप भी SBI बैंक के ग्राहक तो जान लें, इन 6 बैंकों की चेक बुक हो गई कबाड़

अर्थ व बाजार

अगर आप भी SBI बैंक के ग्राहक तो जान लें, इन 6 बैंकों की चेक बुक हो गई कबाड़

देश के सबसे बड़े बैंक SBI के नियमों में 1 अक्टूबर से एक बड़ा बदलाव हो चुका है। 1 अक्टूबर से बदले नियमों के तहत SBI अपने पूर्व 5 सहयोगी बैंकों और भारतीय महिला बैंक के चेक अस्वीकार कर दिए हैं।

अगर आप भी SBI बैंक के ग्राहक तो जान लें, इन 6 बैंकों की चेक बुक हो गई कबाड़

नई दिल्ली. देश के सबसे बड़े बैंक SBI के नियमों में 1 अक्टूबर से एक बड़ा बदलाव हो चुका है। 1 अक्टूबर से बदले नियमों के तहत SBI अपने पूर्व 5 सहयोगी बैंकों और भारतीय महिला बैंक के चेक अस्वीकार कर दिए हैं। साथ ही इन 6 बैंकों के IFSC कोड भी अमान्य हो गए हैं। इसे लेकर SBI ने अपने पूर्व सहयोगी बैंकों और भारतीय महिला बैंक के ग्राहकों से अनुरोध भी किया है कि वह नए चेक के लिए आवेदन कर दें। इसे लेकर बैंक की तरफ से ग्राहकों को मैसेज भी किए जा रहे हैं ताकि ग्राहक अपने पुराने बैंक की चेकबुक को बदल लें और नई चेकबुक ले लें।

बता दें कि SBI में स्‍टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर, स्‍टेट बैंक ऑफ हैदराबाद, स्‍टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्‍टेट बैंक ऑफ पटियाला, स्‍टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर और भारतीय महिला बैंक का विलय हो चुका है।

इस तरह भी प्राप्त कर सकतें है नई चेकबुक-

ग्राहक नई चेक बुक के लिए इंटरनेट या मोबाइल बैंकिंग से आवेदन कर सकते हैं। या आप अपनी होम ब्रांच जाकर भी नई चेक बुक ले सकते हैं। इसके अलावा आपके पास ATM जाकर नई चेक बुक के लिए आवेदन कर सकते हैं।

न्यूनतम बैलेंस को लेकर पहले ही मिल चुकी है राहत -

अक्टूबर महीने की शुरुआत से ही SBI ने मिनिमम बैलेंस को लेकर अपनी पॉलिसी में बड़ा बदलाव कर दिया है। इसके तहत कंपनी ने मेट्रो शहरों में रहने वाले ग्राहकों को राहत दी है। पहले भारतीय रिजर्व बैंक के मेट्रो शहरों के ग्राहकों को अपने खाते में न्यूनतम 5000 रुपए रखना जरूरी था, लेकिन अब बैंक ने इसे घटाकर 3000 रुपए कर दिया है। यह सीमा ग्रामीण क्षेत्रों में 500 रुपए है, जबकि शहरी इलाकों और अर्ध शहरी इलाकों में क्रमशः 3000 और 1000 रुपए है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top